सिटी ऑफ़ गोल्ड़ CITY OF GOLD Lyrics in Hindi- NIRVAIR PANNU

City Of Gold Lyrics in Hindi is the new song by Nirvair Pannu. The song is sung by Nirvair Pannu Himself.

Lyrics of the song written by Sajawalpuria Pandit. The music of the song composed Deep Royce.

The song has got thousands of views within a day of its release. The song is released under the label of Juke Dock.

City Of Gold Song Details

Song: city Of Gold
Singer: Nirvair Pannu
Music: Deep Royce
Lyrics: Sajawalpuria Pandit
Label: Juke Dock

City Of Gold Lyrics in Hindi

हो सिटी ऑफ गोल्ड घुमा दूँ गोरिये

हो सिटी ऑफ गोल्ड घुमा दूँ गोरिये
पैरण विच झंजरन वि पा दूँ गोरिये
दिल वाले पिंजरे च कैद कर लै
घर दे वि तेरे मैं मन लून गोरिये

टेरे विच वस्सदी aa जान जट्ट डी
सादडी वैरियन नाल फसदि गरारी बल्लिये
गबड़ू डा अल्ल्हादे तू हाथ पहाड लै
टेरे मुहरे जिन्दादि aa हारि बल्लिये

उठ तड़के धिआवै सचे सुचे पीर नु
कहुरे केहड़ी लग गई बिमारी बल्लिये
चाधडी जवानी विच रोग ल लेया
ईस्कान दी चढ़ गई ख़ुमारी बल्लिये

सम्भ सम्भ रखूँगा मैं तैनु सोहनिये
च ही मैनु जान टन प्यारी बल्लिये
गबड़ू डा अल्ल्हादे तू हाथ पहाड लै
टेरे मुहरे जिन्दादि aa हारि बल्लिये

हस्सडी बड़ी ऐ नई तू जचदी बडी
मैनु वि सुना दे की ऐ सोचदी खाडी
बक्श तू प्यारन वाली पौन हनने
सची हुन सब्रन दी मुक्क गयी घडी

जादों दी तू ज़िन्दगी दे विच ायी ऐ
ओद्दों डा ही देख लै कमाल हो गया
टेरे उत्ते जोड डा सी गीत नखरो
देखले नई मुंडा कलाकार हो गया

हर वेले तेरी ही फिकर रेहँदी ऐ
सजावलपुरिए ते करि सरदारी बल्लिये
गबड़ू डा अल्ल्हादे तू हाथ पहाड लै
टेरे मुहरे जिन्दादि aa हारि बल्लिये

सण लै ग़ुलाबी नई पंजाबी जट्टिए
चाल रल्के मोहब्बतं दे दिन कट्टिये
सहने सरदार उत्ते मान करि तु
गौर करले नई नख़रे aan पट्टिये

यार्यां च पूरा इक जुटत हीरिये
नमे फेम पूरा पूरि थुक्क हीरिये
मार लाइ शेहर पटिआल वल्ल गेहदा
हीत पिस्तौल aa ग्रुप हीरिये

टेरे नाल जोडिया सँजोग राब ने
च्यल अम्ब्रन च भरिये उदारी बल्लिये
गबड़ू डा अल्ल्हादे तू हाथ पहाड लै
टेरे मुहरे जिन्दादि aa हारि बल्लिये

दीप रोये ट्रैक!

हो सिटी ऑफ गोल्ड घुमा दूँ गोरिये

City Of Gold Video Song

Share this post with your friends

Share on facebook
Share on twitter
Share on whatsapp
Share on telegram